स्वास्थ्य

महिलाएं अपना लाइफस्टाइल में करें। ये 10 बदलाव, स्वस्थ रहेंगे मन और शरीर

कोविद -19 (कोविद -19) महामारी ने हर किसी की दिनचर्या को बदल दिया है, लेकिन अब सभी लोग अपने जीवन की गाड़ी को पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं, इनमें कुछ लोग ऐसे भी हैं जो घर और परिवार के कामकाज के लिए हैं। बीच से सेहत को बनाए रखने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं। ऐसे में अच्छे स्वास्थ के बिना कुछ भी मुमकिन नहीं है, खासकर महिलाओं (महिलाओं) को अपनी सेहत का ध्यान रखना और बहुत जरूरी है। यहां कुछ ऐसी जरूरी बातें बताई गई हैं जिनके माध्यम से महिलाओं को अपने मन और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद मिलेगी।

1. पर्याप्त पानी और नींद: पर्याप्त मात्रा में पानी पीना और कम से कम 8 घंटे की अच्छी नींद लें। ये शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए आवश्यक है।

2. योग और ध्यान: वैसे तो दिनचर्या से समय निकालना भी आपके आप में एक काम है, लेकिन 30 मिनट का समय निकालने से शरीर की बहुत परेशानी हल हो सकती है। इस 30 मिनट के दौरान ध्यान लगाएं और योग करें, ताकि पूरे दिन की ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में मदद मिल सके।

3. स्क्रीन समय कम करें: आज कल स्क्रीन टाइम नई परेशानी बन गई है, खासकर लॉकडाउन में इसका प्रभाव काफी ज्यादा है। स्क्रीन टाइम यानी मोबाइल या टीवी पर अधिक समय रहना। स्क्रीन टाइम कम करने की कोशिश करें और दिनभर में कभी-कभी 20 मिनट बगैर मोबाइल के रहें। इसके अलावा आँखों की एक्सरसाइज के लिए दूर किसी वस्तु को घूरें रखा।

4. अपनी मुद्रा को लेकर सजग रहें: महिलाएं इन दिनों स्क्वीप डिस्क और सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की ज्यादा शिकार हो रही हैं, यह स्थिति लंबे समय तक गलत तरीके से बैठने के कारण होती है। इसलिए उनके बैठने के तरीके पर गर्व करेंगे और गर्दन की मांसपेशियों में यदि तनाव है, तो इसके लिए गर्दन से जुड़े व्यायाम करें।

5. सामान: एक स्वस्थ आहार अनगिनत तरीकों से मदद कर सकता है। अपने भोजन में फाइबर, प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ और पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ शामिल करें।

6. मासिक धर्म में स्वच्छता बनाए रखें: गुप्तांग की साफ सफाई प्रतिदिन रखनी चाहिए, लेकिन मासिक धर्म के दौरान यह और भी जरूरी हो जाता है। इन दिनों में होने वाली ऐंठन काफी परेशान करने वाली हो सकती है। यदि कोई महिला रोजाना साफ सफाई नहीं करती है और उचित समय पर सैनिटरी नैपकिन नहीं बदलती है, तो ऐसे में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती हैं।

myUpchar से जुड़ी डॉ अर्चना निरुला का कहना है कि मासिक धर्म के दिनों में रोजाना हर 4-5 घंटे में सैनिटरी नैपकिन को बदलना चाहिए। यह न सोचें कि यह अभी भी खराब नहीं हुआ है। एक ही पैड को लंबे समय तक इस्तेमाल करने से संक्रमण का खतरा रहता है।

7. कम करें चीनी का सेवन: चीनी का सेवन करना या चीनी के विकल्प जैसे ग्राम आदि का उपयोग करने से अलार्म को नियंत्रित रखने में मिलती है। यह डायबिटीज, हृदय रोग और मोटापे के जोखिमों को कम कर सकता है।

8. थोड़ा सा आवश्यक: ज्यादा धूप में रहना त्वचा के लिए निश्चित रूप से अच्छा नहीं होता है, लेकिन शारीरिक विकास के लिहाज से धूप की बड़ी भूमिका होती है। सूर्य का प्रकाश विटामिन डी का एक बहुत बड़ा स्रोत है, जिसके बिना शरीर कैल्शियम को अवशोषित नहीं कर सकता है। myUpchar के अनुसार, विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थों को खाने के अलावा 15 से 20 मिनट धूप में विटामिन डी की कमी को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है। रोजाना सूर्य की रोशनी में कुछ समय रुकने से विटामिन डी की कमी से होने वाली समस्याओं को रोका जा सकता है।

9. खुद के लिए निकाले थोड़ा समय: घर के किसी काम के लिए नहीं, बल्कि खुद के लिए थोड़ा-सा वक्त निकालना जरूरी है। इससे नई व अच्छी आदते विकसित होती हैं, साथ ही महिलाओं को यह भी पता चलता है कि उन्हें किस चीज में दिलचस्पी है।

10. जोखिम से मुक्त आदतों से: मॉर्डन शहरों में महिलाओं को सिगरेट पीते देखा होगा, लेकिन सिगरेट का इस्तेमाल किसी को नहीं करना चाहिए, फिर चाहे वे पुरुष हों या कोई महिला। इसके अलावा अल्कोहल युक्त पेय के सेवन से भी दूर रहें।अधिक जानकारी के लिए हमारा कलात्मक, महिला स्वास्थ्य पढ़ें। न्यूज 18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखित जाते हैं। स्वास्थ्य से संबंधित खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और चिकित्सक, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़े सभी बदलाव आते हैं।




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button