स्वास्थ्य

त्योहारी सीजन में डायबिटीज से बचने के लिए अपनाएं ये 7 आसान टिप्स

त्योहारी सीजन (उत्सव का मौसम) की शुरुआत हो चुकी है और अब धनतेरस (धनतेरस), दिवाली (दिवाली) और भाई दूज (भाई दूज) भी नजदीक हैं। ऐसे में लोग तरह-तरह के व्यंजन घरों में बनाएंगे भी और बाजार से मंगवाएंगे भी। दिवाली पर लोग एक दूसरे का मुंह मीठा करवाते हैं लेकिन डायबिटीज (मधुमेह) से पीड़ित लोगों के लिए त्योहारी सीजन में मिठाई (मिठाई) और तरह-तरह के व्यंजनों का सेवन इतना आसान नहीं होता है। दिवाली के दिन घर में मिठाइयों का भंडार लग जाता है। इस दिन लोग जमकर मिठाइयां खाते हैं। अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं या फिर इससे दूर रहना चाहते हैं तो आप आसान सी इन 7 टिप्स को अपनाकर खुद इसे दूर रख सकते हैं।

दिन में 5 बार थोड़ा-थोड़ा खाना खाएं
ज्यादातर लोग दिन में तीन बार पेटभकर खाना खाते हैं। इस त्यौहारी सीजन में आप कोशिश करें कि आप दिन में चार से पांच बार में थोड़ा-थोड़ा कर खाना खाए। इससे आपके शरीर में शुगर का स्तर कम रहेगा और डाय की शिकायत भी नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: दीवाली 2020: जानें कब मनाई जाएगी दिवाली, क्या है दीपावली का महत्व और शुभ मुहूर्तमिठाई की जगह खाट स्नैक्स और नट्स

मानते हैं कि दिवाली पर मुंह मीठा करना है लेकिन अगर आप अपने स्वास्थ्य को लेकर सचेत नहीं रहेंगे तो आपको मुंह मीठा करना भारी पड़ सकता है। कोशिश करें आप इस त्यौहारी सीजन में मिठाई की जगह साराक्स और नट्स का सेवन करें।

पानी की कमी न होने दें
त्योहारी ऋतु की भागवत में लोग अकसर भूख-प्यास को भूल जाते हैं। कोशिश करें कि आपको स्वास्थ्य से संबंधित कोई बीमारी न हो इसके लिए आप अपने शरीर में पानी की कमी न होने दें। दिनभर में ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं और हेल्दी रहें। त्योहारों में लोग सामान्य दिनों से बहुत खाते हैं। इसे पचाने के लिए भरपूर्ण मात्रा में पानी पिएं।

मिल्क चॉकलेट की जगह कैस डार्क चॉकलेट
चॉकलेट का नाम सुनते ही लोगों के मुंह में पानी आ जाता है। लेकिन दिवाली के मौके पर अपने घर में पहले से ही एसए मिठाई की मौजूदगी और रिले भी चॉकलेट से आपका मुंह मीठा कराने पहुंच जाएगा। इसलिए शरीर में शुगर का स्तर न बढ़ जाए तो आप दोस्तों और रिश्तेदारों द्वारा दी जाने वाली चॉकलेट को केवल खाएं अगर वह डार्क चॉकलेट हो। डार्क चॉकलेट में मिल्क चॉकलेट की तुलना में शुगर की मात्रा कम होती है।

सफेद चावल का सेवन न करें
दिवाली के मौके पर तरह-तरह के व्यंजन बनाने की भी होड़ लगी हुई है। डायबिटीज से पीड़ित और जो इससे बचना चाहते हैं वह सफेद चावल का सेवन न करें। क्योंकि सफेद चावल में ग्लाइसेमिक होता है जो शरीर में शुगर की मात्रा को बढ़ाता है। ब्रान राइस या अनाज का ही सेवन करें क्योंकि ये शुगर के स्तर को काफी बेहतर बनाए रखते हैं।

यह भी पढ़ें: दिवाली 2020: दिवाली पर अपनाएं ये वास्तु टिप्स, मां लक्ष्मी की कृपा से होगी धन की बरसी

बेक उत्पादों से किनारा करें
बेकरी उत्पादों जैसे बिस्कुट और केक का सेवन बिल्कुल भी न करें। बेकरी उत्पादों के सेवन से शुगर का स्तर बढ़ने का सबसे अधिक खतरा होता है। साथ ही इस त्यौहारी सीजन में स्वस्थ रहना है तो डीप-ड्राई फूड जैसे कि समोसे और पकौडे़ भी खाने से प्रभावित होते हैं।

अल्कोहल का सेवन न करें
त्योहार पर कुछ लोग शराब का सेवन कर खुशियां मनाते हैं लेकिन याद रहे कि यह खुशियां आपके लिए भी बन सकती हैं। शराब की कम मात्रा का सेवन करने से आप पर शुगर की समस्या हावी नहीं होगी। डायबिटीज के रोगी ध्यान दें कि वे तो बिल्कुल भी इन चीजों को हाथ न लगाएं। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं। हिंदी न्यूज़ 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button